वो मज़ा ए तड़प कहाँ ग़र सब एक साथ मिल जाय,
ग़ुमनाम किश्तों मे मरने का मज़ा ही कुछ और है… ग़ुमनाम

ऐ जिन्दगी मुझे तुझसे बस इतना चाहिए
तू कभी मेरा साथ देना या मत देना  Read more

किस्मत ने साथ छोड़ा तो पानी की बूँद के लिए तरस गये
मोहसिन
वरना एक जमाना ऐसा था लोग रो रो के आंसू पिलाते थे…

अगर आपका साथ मिल जाये तो ये जिंदगी बड़ी हसीन हो जायेगी
आपकी महफिलें हम सजा देंगे ओर हमारी आपके आने भर से सज जायेंगी।