गणतंत्र दिवस के पावन पर्व पर सभी मित्रों को हार्दिक शुभकामनाओं के साथ कुछ पंक्तियाँ —

भारत भूमि बलिदानों की, बड़े कठिन से पाया,
जिसको हँसकर बड़े विधि से, रब ने रम्य बनाया। Read more

ऐ मुल्क,
जब कभी जी में आये तो ले लेना इम्तिहान हमारी देशभक्ति का,
हम मुल्क की खातिर लहू भी दें देगें चिरागों में जलाने के लियें।

अब्र की स्याही से लिखा लगता है,
भविष्य मेरे देश का,
कि जल कर ख़ाक हुआ जाता है, Read more