कितनी ही ना जाने शाखों में बटी हूँ
पत्नी हूँ माँ हूँ बहन और बेटी हूँ

–सुरेश सांगवान’सरु’

Facebook Comment

Internal Comment

Leave a Reply