पंख लगाकर मेरे ख्वाबों को ले जाओ कहीं दूर,
कमबख्त रात में आते हैं और सोने भी नहीं देते…

Facebook Comment

Internal Comment

Leave a Reply