मैने कभी अपनी चाहत का वज़न नहीं देखा
जब किसी ने पूछा दोनो हाथ फैला दिये इतना….
आभा….

Facebook Comment

Internal Comment

Leave a Reply