जरा बारिश क्या हुई मेरे शहर में
के तेरी यादें बिखर गयी सावन की तरह ।

Facebook Comment

Internal Comment

Leave a Reply