Recent Updates Home | Submit Your Shayari | Contact Us

  • ~aakaasshhh~ 5:17 am on April 9, 2014 Permalink | Reply
    Tags: ,   

    मिले थे हसीन लम्हे जितने मुलाकात के,
    किश्तों किश्तों मे उन्हें लौटाना पड़ेंगा…

     
  • ~aakaasshhh~ 5:11 am on April 9, 2014 Permalink | Reply
    Tags: ,   

    मेरी तन्हाई मार डालेगी दे दे कर तानें मुझको ,
    एक बार आ जाओ इसे तुम खामोश कर दो…

     
  • ~aakaasshhh~ 5:06 am on April 9, 2014 Permalink | Reply
    Tags: ,   

    काश तेरा घर मेरे घर के बराबर होता,
    तू न आती तेरी आवाज तो आती रहती…

     
  • ~aakaasshhh~ 5:03 am on March 19, 2014 Permalink | Reply
    Tags: ,   

    ये ना पूछ कितनी शिकायतें हैं तुझसे ऐ ज़िन्दगी,
    सिर्फ इतना बता की तेरा कोई और सितम बाक़ी तो नहीं…

     
  • ~aakaasshhh~ 5:01 am on March 19, 2014 Permalink | Reply
    Tags: ,   

    दिल किसी से तभी लगाना जब दिलों को पढ़ना सीख लो,
    क्योंकी हर एक चेहरे की फितरत में वफ़ादारी नहीं होती…

     
  • ~aakaasshhh~ 4:59 am on March 19, 2014 Permalink | Reply
    Tags: ,   

    वो अब तक भूल गया होगा प्यार का किस्सा,
    बिछड़कर किसी से, किसी को, किसका ख्याल रहता है…

     
  • ~aakaasshhh~ 4:57 am on March 19, 2014 Permalink | Reply
    Tags: ,   

    हमें रोता देखकर वो ये कह के चल दिए कि,
    रोता तो हर कोई है क्या हम सब के हो जाएँ…

     
  • ~aakaasshhh~ 4:55 am on March 19, 2014 Permalink | Reply
    Tags: ,   

    एक हम हैं की खुद नशे में है,
    एक तुम हो की खुद नशा तुम में है…

     
  • ~aakaasshhh~ 4:53 am on March 19, 2014 Permalink | Reply
    Tags: ,   

    हुस्न वालों को क्या जरूरत है संवरने की,
    वो तो सादगी में भी क़यामत की अदा रखते हैं…

     
  • ~aakaasshhh~ 11:33 am on March 14, 2014 Permalink | Reply
    Tags: ,   

    कभी तुमसे थी जो वही शिकायत हैं अब इस ज़माने से,
    मेरी तारीफ तो करता हैं पर मुझसे वफा नहीं करता…

     
c
compose new post
j
next post/next comment
k
previous post/previous comment
r
reply
e
edit
o
show/hide comments
t
go to top
l
go to login
h
show/hide help
shift + esc
cancel